Subscribe Us

boycott made in china | boycott china human rights,not challenge,petition,remove china apps,how can i avoid buying from china

boycott made in china | boycott china human rights,not challenge,petition,remove china apps,how can i avoid buying from china


 Boycott Made in China यह एक कैम्पेन सोनम वांगचुक के द्वारा चलाया जा रहा है! पिछले कुछ सप्ताह में भारत व चीन के बीच सीमा विवाद तेजी से बढ़ रहा है! चीन को जवाब देने व भविष्य को ध्यान में रखते हुए भारत में “मेड इन चाइना” व “एक हफ्ते में सभी चीनी सॉफ्टवेयर छोड़ दो, एक साल में सभी चीनी हार्डवेयर” ! सोनम वांगचुक जिनका फिल्म 3इडियट में आमिर खान ने मुख्य किरदार निभाया था ! उन्होंने एक वीडियो संदेश जारी करके बताया कि भारतीय को अपने वॉलेट पावर का इस्तेमाल करना चाहिए! ( WALLET POWER # BoycottMadeInChina #SoftwareInAWeekHardwareInAYear )

Boycott Made in China

चीन और भारत के बीच तनाव और टकराव की स्थिति बनी हुई है! इसके बारे में आपकी क्या जिम्मेदारी है!

लद्दाख के लोवरा वह जानताग के इलाकों में तनाव बढ़ता जा रहा है ! भारत के हजारों सैनिक वाह तैनात किए जा रहे हैं!भारत व चीन ने अपने-अपने वायु सेना के जहाज आमने सामने कर दिए हैं!

सामान्यतः जब सीमा पर तनाव होता है! तो हम आप जैसे नागरिक यह सोच कर रात को सो जाते हैं, कि सैनिक इसका जवाब देंगे!

मगर इस बार सैनिक जबाव के साथ-साथ एक नागरिक जबाव भी हो! इस बार दो तरफा जवाब भारत के हर कोने से होना चाहिए!

Boycott China Human Rights

चीन की हरकत व ऐसा क्यों कर रहा है समझने की कोशिश करते हैं!

आपने देखा होगा कि यह सिर्फ भारत के साथ ऐसा नहीं बल्कि पिछले कई हफ्तों से दक्षिणी चीनी सागर में वियतनाम, ताइवान, हांगकांग, के साथ भी ऐसा ही कर रहा है!

एक विश्लेषण के अनुसार यह किसी दुश्मनी से ज्यादा अपने अंदर की समस्याओं को सुलझाने के लिए कर रहा है!

आज चीन को सबसे बड़ा डर अपनी जनता से हैं! उनकी 140 करोड़ की आबादी जो कि एक बंधुआ मजदूर की तरह बिना मानव अधिकारों के चीनी तानाशाह सरकारों के लिए दिन रात काम करती है! और उसे धनी बनाती है!

जब वह नाराज हो जाए तो एक क्रांति का खतरा बढ़ जाता है! इससे चीन को बहुत डर लगता है!

Not Made in China Challenge

आज करोणा के प्रकोप के बाद चीन में ज्यादातर फैक्ट्रीया बंद है, एक्सपोर्ट बंद है! और बेरोजगारी भी 20 प्रतिशत तक बढ़ गई है!

लोग बहुत नाराज हैं, आंदोलन हो सकता है! सरकार का तख्तापलट हो सकता है! इसीलिए चीन पड़ोसियों से दुश्मनी करके अपनी जनता को सरकार के साथ जोड़ने में लगा हुआ है!

ऐसा पहली बार नहीं कर रहा है, 1962 में भारत के साथ जंग भी अपनी जनता को संभालने के लिए की थी! तब 4 साल के अकाल के कारण चीन में भुखमरी पैदा हो गई थी! इससे जनता का ध्यान हटाने के लिए यह जंग की गई थी!

चीन के लिए अपनी GDP और खुशहाली को बढ़ाते रहना बहुत जरूरी है! लेकिन जिस दिन GDP घट जाए तो वहां की जनता क्रांति के लिए तैयार है!

इस बार भारत की बुलट पावर से भी ज्यादा वॉलेट पावर काम आएगी!

जो नागरिक पैसा खर्च करते हैं! चीन के सामान को खरीदने में जरा सोचिए हम और आप भारतीय उद्योग को मारकर चीन से मोतियों से कपड़ों तक हर साल 5 लाख करोड़ तक का सामान खरीदते हैं!

तब जाकर यह पैसा आगे जाकर हमारी सीमा पर हथियार वह बंदूक बनकर सैनिकों की मौत का कारण बनते हैं!

इसलिए हमारे देश के 130 करोड़ नागरिक और तीन करोड़ भारतीय अन्य देशों में रहते हैं, सब मिलकर भारत में नहीं बल्कि दुनिया भर में एक boycott made in China मूवमेंट या अभियान चलाएं! आज दुनिया भर में चीन के प्रति रोष है! हो सकता है, कि सारी दुनिया साथ आ जाए!

How Can i Avoid Buying from China

यह अभियान भारत के लिए भी वरदान साबित हो सकता है! जैसा कि भारत के प्रधानमंत्री ने एक विजन हमें दिया था! स्वावलंबन का वह तब हो सकता है, जब हमारे खुद के उद्योग धंधे फले फुले!

जब चीन का boycott करते हैं! तो अपने देश के उद्योगो के उत्पादन का हम इस्तेमाल करना शुरू कर देंगे तो उससे मजदूरों को रोजगार मिलेगा और सारा देश खुशहाल होगा! और जब बजट होगा तो हम सीमा पर भी अच्छी तरह से टक्कर ले सकते है!

जहां तक एप की बात है तो हमें उन्हें हफ्ते में अनइंस्टॉल करना चाहिए ,यह केवल फोन और कंप्यूटर के बारे में नहीं है!यह टिक टॉक जैसे सॉफ्टवेयर और एप पर भी लागू होता है! जिनका बहिष्कार करने की आवश्यकता है!

कुछ नागरिक प्रतिक्रिया भी होनी चाहिए यह भारत के हर कोने में एक मुहिम की तरह हमें करना चाहिये!

Boycott China Petition

क्योंकि चीन बड़े पैमाने पर विनाश के जैव और रासायनिक हथियार विकसित कर रहा है! चीन मे एक क्रूर तानाशाही सरकार हैं! संपूर्ण विश्व की सरकारे दुनिया भर की अर्थव्यवस्था और पूरा मानव जीवन आज चीन की वजह से खतरे मे है!

आइए अपने पैसे वापस अपने देश और उन देशों में लाएं जो सभी के लिए शांति और समृद्धि के लिए मिलकर काम करते हैं! कृपया चीनी निर्मित वस्तुओं के बहिष्कार के प्रयास के लिए इस याचिका पर हस्ताक्षर करें!

कोई भी समान खरीदने से पहले कुछ मिनट सोच कर यह निर्धारित करे की यह कहां बनाया गया है! कुछ अतिरिक्त पैसे खर्च करके अपने देश मे निर्मित समान ही खरीदे मेड इन चाइना उत्पाद न खरीदे!

Chinese Products in India

चीन एक ऐसा देश है, जो आतंकवाद, माओवाद, और पाकिस्तान जैसे देश का समर्थन करता हैं ! जो आतंकवाद की मातृभूमि है!

हाँ, चीनी उत्पादों का बहिष्कार करना बहुत संभव है! और अगर नहीं तो कम से कम हम उन उत्पादों का बहिष्कार कर सकते हैं, जो बाजार में उपलब्ध हैं!

हां, मैं इस तथ्य से सहमत हूं कि अभी हम सभी चीनी उत्पादों का बहिष्कार करने की स्थिति में नहीं हैं, लेकिन जैसा कि आप सभी जानते हैं! आवश्यकता अविष्कार की जननी है, पहले भी हम ऐसे कारनामे कई बार के दिखा चुके हैं!

Not Made in China Challenge

पहला सुपर कंप्यूटर विकसित किया था, जब usa ने भारत को बेचने से इनकार कर दिया!

जब US ने हमें कारगिल युद्ध के दौरान अपना GPS सिस्टम देने से मना कर दिया था, लेकिन आज भारत ने अपना खुद का स्वदेशी GPS सिस्टम तैयार कर लिया है!

यह भी पढ़ें:-

Post a Comment

0 Comments